टाल्क और अंडाशयी कैंसर पर अध्ययन
विज्ञान का अन्वेषण कीजिए
टाल्क और अंडाशयी कैंसर पर अध्ययन
The Nurses’ Health Study (नर्सिस हेल्थ स्टडी) (NHS) अब तक का सबसे बड़ा महिलाओं का स्वास्थ्य अध्ययन है। इस अमेरिकी सरकार द्वारा वित्त पोषित कॉहोर्ट अध्ययन ने 1976से महिलाओं में प्रमुख दीर्घकालीन रोग के जोखिम कारकों का पता लगया है।

The Nurses' Health Study (नर्सिस हेल्थ स्टडी)

अंडाशयी कैंसर के जोखिम में कोई

समग्र वृद्धि नहीं हुई

24
वर्ष अध्ययन
कुल
78,630
महिलाओं
31,789
ने टाल्क इस्तेमाल किया
Women's Health Initiative (WHI, वुमन्स हेल्थ इनिशिएटिव) की स्थापना अमेरिका के National Institutes of Health (राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान) ने 1991 में रजोनिवृत्त महिलाओं के स्वास्थ्य का अध्ययन करने के लिए की थी। इस कोहोर्ट अध्ययन में कई मामलों की जांच की गई जिसमें हार्मोन चिकित्सा और स्तन कैंसर, और कैंसर और हृदय रोग पर आहार के प्रभाव की कड़ी भी शामिल थी।

The Women’s Health Initiative Study (वुमन्स हेल्थ इनिशिएटिव स्टडी)

अंडाशयी कैंसर के जोखिम में कोई

समग्र वृद्धि नहीं हुई

12
वर्ष अध्ययन
कुल
61,576
महिलाएं
32,219
ने टाल्क इस्तेमाल किया
Sister Study ने 2003-2009 तक National Institutes of Health (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ), National Institute of Environmental Health Sciences (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एनवायर्नमेंटल हेल्थ साइंसेज) के सहयोग से स्तन कैंसर के कारणों का पता लगाने के लिए एक उल्लेखनीय शोध प्रयास था।

The Sister Study

अंडाशयी कैंसर के जोखिम में कोई

समग्र वृद्धि नहीं हुई

6
वर्ष अध्ययन
कुल
41,654
महिलाएं
5,735
ने टाल्क इस्तेमाल किया

अन्य अध्ययन

बड़े, भावी अध्ययनों में अंडाशयी कैंसर और पाऊडर उपयोगकर्ताओं के बीच एक सांख्यिकीय संबंध नहीं पाया जाता है, हालांकि कुछ, लेकिन सभी नहीं, नियंत्रण अध्ययन मामूली सांख्यिकीय संबंध का संकेत देते हैं। नियंत्रण अध्ययन ऐसे अध्ययन हैं जहां विशिष्ट रोग के इतिहास वाले लोगों के समूह से विभिन्न संभावित जोखिम कारकों के बारे में सवाल पूछे जाते हैं। इन जोखिम कारकों में उनके अतीत के कुछ उत्पादों का उपयोग शामिल हो सकता है। एक संभावित कारण यह है कि कुछ को मामूली सांख्यिकीय संबंधों का पता चला है, "रिकॉल बाअस" के कारण सच्चे संबंध के अधिमूल्यन की संभावना है। रिकॉल बाअस याने जब किसी रोग से ग्रासित लोग उस रोग से मुक्त लोगों के मुकाबले इन जोखिम कारकों से अपना संपर्क अधिक होने का अधिमूल्यन करने की ज्यादा संभावना रखते हैं। इन अध्ययनों में, जिन महिलाओं को पता है कि उनको अंडाशयी कैंसर है, वे किसी भी चीज को याद रखने के लिए कड़ी मेहनत करेंगी, जो यह समझाने में महत्वपूर्ण हो सकता है कि उन्हें यह भयानक रोग क्यों हुआ, जो कृत्रिम रूप से यह प्रकट कर सकता है कि कैंसर से पीड़ित महिलाएं अधिक टाल्कम पाऊडर का इस्तेमाल करती हैं।8

टाल्क और मेसोथिलियोमा के अध्ययन
मेसोथिलियोमा कैंसर का एक दुर्लभ रूप है, जिसके कई प्रकार हैं। एस्बेस्टस संपर्क को कुछ प्रकार के मेसोथिलियोमा से जोड़ा गया है। एस्बेस्टस एक प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला खनिज है जो पर्यावरण में पाया जाता है, और इसके तन्तु की थोड़ी मात्रा हमारे चारों ओर होती है – जो हवा में हम सांस लेते हैं, पीने के पानी में, मिट्टी और कुछ खाद्य पदार्थों में।

कोई भी सारभूत वैज्ञानिक अध्ययन नहीं है जो दर्शाता है कि cosmetic talc (कॉस्मेटिक टाल्क) के प्रश्वास के कारण मेसोथिलियोमा होता है।
उन हजारों लोगों का अध्ययन किया गया है, जो दैनिक स्तर पर अपने टाल्क पाऊडर के खनन और पिसाई कार्य के माध्यम से टाल्क के संपर्क में थे। इन अध्ययनों से पता चलता है कि टाल्क के उच्च स्तर के संपर्क में रहने से व्यक्ति में मेसोथेलियोमा के विकास का जोखिम नहीं बढ़ता है।

खनिकों और मिल-मजदूरों का अध्ययन

मेसोथेलियोमा के खतरे में कोई बढ़ोतरी नहीं
2,149
खनिक और मिल-मजदूर प्रतिदिन टाल्क के संपर्क में आते हैं
का अध्ययन
40
वर्ष

फेफड़ों में द्रव के संचय को कम करने के लिए टाल्क का उपयोग किया जाता है

प्लुरोडेसिस (एक प्रकार की वक्ष शल्य चिकित्सा) नामक एक चिकित्सा प्रक्रिया फेफड़ों को छाती की दीवार से चिपके रहने में मदद करती है ताकि ध्वस्त फेफड़ों को फुलाया जा सके या फेफड़ों के आसपास द्रव पदार्थ जमा होने से रोका जा सके।

कुछ मामलों में, द्रव संचय को रोकने के लिए टाल्क को सीधे फेफड़ों के अस्तर में इंजेक्शन से डाला जाता है। रोगियों की बड़े पैमाने पर रिपोर्ट बताती है कि सैकड़ों रोगियों में से, जिन्होंने इस प्रक्रिया को दर्जनों वर्षों में किया था, मेसोथिलियोमा के मामले नहीं हुए हैं।

Found

0

cases of mesothelioma
इससे अधिक
300
रोगियों
का अध्ययन
14-40
वर्ष
Powered by Translations.com GlobalLink OneLink Software